प्रकाशन तिथि: | गुरु, 14 अक्टूबर 2021 08:43 अपराह्न (आईएसटी)

जुन्नारदेव। शांति और शांति के संतों के सुख के लिए रत्नों के साथ मंत्रों के साथ मंत्रों के साथ मंत्रों के साथ मंत्रार्चन और मंत्रों का चयन करते हैं। प्रसाद अर्पणा को स्वीकार किया गया। शंकरी जूनाणारदेवा भोलेनाथ का तुलतु यात्रा पर्वत में विशाल थे। इस वाइकिंग्सरी यात्रा ने यूतामिया, नवे गांव, दमधु और जुन्नार देव ब्लाक के ग्रामों का दौरा किया। नवरात्र के आखिरी दिन जुन्नार ब्लॉक के रीछेडा और पालूचौरई क्षेत्र में प्रवेश करते थे। केवल नटवरा, मोरकुंड, लाटखेड़ा, मंडुआ, डोरी, धमासिया, बिछुआ, रिछेड़ा, घूटी, जमकुंडा, नेत्रपुर, जमींबर, भादरी और पलारेई का दौरा हिराजी। था। सदगुरु फेज के सदस्य सुरेंद्र उईके के साथ गठित आयोग के सदस्य गुरु चरण खरे, ब्लाक का कंगंग्रेसचुनारदेव के अध्यक्ष घनश्याम तिवारी, ब्लाक तालमेलक अमर दीप राय, बुजुर्ग नेता सतीश नारायण शुक, धुवा दैत्य कमल मदान, दमड ब्लाक अध्यक्ष विनोद निरापुरे, जिला अभियंता सोहनयाम दमदम गुलबांके, जुन्नारदेव नदीप पुष्पा साहू, जिला पंचायत सदस्य नागवंशी सालेवार, सुधीर लदरे, अरुण साहू, हेमराज, राजदिन सिद्दीकी, अरुण जयसवाल, देवेंद्र कुमरे, घनश्याम बरने, अंकित राय, यशब साहू, सुन, अवनाश, अंसार खान, मोहित डेहरिया, मुकी उईके एवं बजराजगणित संख्या में गुणा बढ़तीं.

द्वारा प्रकाशित किया गया था: नई दुनिया न्यूज नेटवर्क

.



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *