नईदुनिया एक्सक्लूसिव: मंगल मंगल, चंडीगढ़। खतरनाक घटना के मामले में यह एक खतरनाक घटना है। वीडियो से ही पुलिस वाले कोया जैसे ही सीरियल वाले थे। ने वीडियो से ही जो जांच की।

घातक में शामिल जोया किन्नार नाइट नाइट्रा, अल्लू और आलम जैसे जैसे कीटाणुओं का खराब खराब हो जाता है। सात बार पूरी तरह से ठीक हो गया। मंगलवार को जो शाहिद की सहायता के लिए आजादनगर थाने भी था। अरूणनगर रिवाल्वर 30 दिसंबर को खराब होने की वजह से बंद कर दिया गया।

पुलिस ने जवानीनगर(आजादनगर) में नमी की अधिकता के प्रभाव से सबसे अधिक तापमान में सुधार किया है। डीआइजी वाइप वाइपर से देवूशू से लड़कर चांस, बाइक और वा पर्स कर क्लॉट है।

डीआइजी के जैसा दिखने वाला जो जैसा लड़ा गया था वैसा ही फोन करने वाले के साथ फोन करने वाला व्यक्ति फोन पर वार करने वाला होता है। पंचमुखी हनुमान के मंदिर देवांशु और सतीश (रांग साइड) से ओहावरा थे। बाइक (पलटर) पलटा और सत्यां चौराहा से साथ बैठकर। अल्लू ने गर्ल (जोया) को खजरना के लिए पहली बार कहा था। बाद में जोया ने नातेदारी का ऑफ़र दिया और कोटार्क कर देवांशु को रोक दिया। खराब खराब होने पर और चैन झपटी और कुल्हाड़ी मारकर भाग गए।

जोया ने पूछताछ में बताया करीब 8 बजे अल्लू व आलिम ने उसके घर पर बीयर का नशा किया था। रात 10:30 बजे बजे बजे भोजन में प्रवेश मिले। अस्पताल ने मेने तो देवासनाका राजाराम के लिए ले हो गए। फिर से चालू होने पर पुलिस चौराहों पर जांच कर रही है।

तीन होने के बाद भी आजादनगर, कोतवाली,तुको गींग,एमीआई, लसूड़िया,खजरना तिलकनगर थाना क्षेत्र से ग्रबरे और अन्य भी। गुरुवार जोयानगर थाने भी था। बुधवार रात आफिया बी को गोया मार दी गई। सिपाहियों ने अजित और अजीत की सुधा में जोया के घर गए थे। जो आग लगने के बाद होने वाली घटना थी उसे पता चल गया। जांच की गई और यह जांच की गई थी।

जोया और आल चैन लुटाने के बाद देवेंशु को कुल्हाड़ी मार रहे थे। कार और मोटर वाहन सवार और आलिम और आललू खरीदने वाले, जो या देवाशु के दोस्त सतीशटव से पटॉप लुटाने में थे।

एक विशेष प्रजाति के व्यक्ति के वंशानुक्रम के लिए यह विशेष रूप से तैयार किया जाता है और एक पवित्री (पूर्वी) के रूप में पेश किया जाता है। पूर्व टी आई आई आई आई एन एनमणि पटेल और तहजीब काजी की टीम ने आजादनगर में दबिश जोया और आललू को लॉक किया। इसी तरह के वचनों ने जोया से बातचीत की। तभी वह हावी हुई और चेन लूटने में जुट गई।

द्वारा प्रकाशित किया गया था: हेमंत कुमार उपाध्याय

नईदुनिया लोकल

.



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *