प्रकाशन तिथि: | बुध, 13 अक्टूबर 2021 06:19 अपराह्न (आईएसटी)

बैतूल (नव विश्व दूत)। श्री कृष्ण पंकज सेवा संस्थान के तत्वावधान में नियमित रूप से चलने वाले रामलीला के 8 वें दिन गुरुवार को श्री रामली मंडल बरहापुर के नेव वध, लंका स्टोर, रामेश्वर सेट, अंगद रौनक सम्मेलन के कॉन्वेंटों का मंचन किया गया। बाली वध प्रसंग के दौरान सुग्रीव, भगवान राम को व्यथा सुनाते हैं कि कैसे उनके ही भाई बाली ने उनका राजपाट छीन कर उन्हें जंगल में रहने को मजबूर कर दिया। ️ भगवान️ भगवान️ भगवान️ भगवान️ भगवान️️️️️️️️️️️️️️️️️️️ अच्छी गुणवत्ता वाले वचन को पूरा करने के लिए सब कुछ करेंगे। बाद में सुव के रखे जाने की स्थिति में है। मेयता मैया को बनाने की योजना बना रहे हैं।

राम मुद्रिका से

हनुमान जी सहित वनर सेना में महामहिम है। जंगल में एक डाइव हैं कि सीता जी को लंका में हैं। हनुमान जी, सीता जी की लंका की ओर ले ले। हं जी, सीता जी को वाटिका में . सीता जी भी हैं। हनुमान जी सीता जी को प्रोग्राम मिलते हैं। आग बुझाने के लिए काम करेंगे। इस पर हनुमान जी जल जल भराव। जल में भी शामिल हैं। धूं-धूं लंका को रिकॉर्ड करें।

बड़े-बड़े महारथी पाए अंगद का पांवः

सीता जी के लंका में होने की जानकारी हनुमान जी से मिलने के बाद रामजी की सेना लंका कुछ अच्छी स्थिति है। इससे पहले रावण को अंतिम अवसर देने के लिए अंगद को दूत बनाकर लंका भिजवाया जाता है। रावण दरबार में पहुंचने पर अंगद, रावण को मैत्री प्रस्ताव स्वीकार करने की सलाह देते हैं, लेकिन अहंकार के चलते रावण पर कोई असर नहीं पड़ता और वह इसे अस्वीकार करते हुए युद्घ स्वीकार होने की बात कहता है। रैन और अंगद के बीच जोशपूर्ण व्यवहार है। इसके️ अंग️ अंग️ अंग️ अंग️ अंग️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️️ ️️️️️️️️️️️️️️️ एक-एक कर दरबार के सभी पागल हो गए हैं। दृढ़ विश्वास है, अंगद खुद को अपना पांव ही हटा देना है तो पकड़ लेना स्वचालित रूप से प्रभु श्रीराम के पांव नियंत्रक हैं।

गोकू राम नें रामेश्वरः

राम सेना के सभी शूरवीर लंका को मंत्र मंत्र हैं। इस अवधि में वृद्धि हुई है। भगवान राम समुद्र से उनकी सेना को पार कराने के लिए मार्ग प्रदान करने की प्रार्थना करते हैं। इसके अपनी श्रीराम को व्यवस्थित करें। इस तरह शिल्पी नल-नील आगे हैं। यह खाने के लिए उपयुक्त हैं। एक-एक बजने पर, श्रीराम अपडेट होते हैं और एक ही समय में होते हैं। इसे अच्छी तरह से तैयार किया गया है।

बक्स—————-

रामलीला में आज के दिन-

-लक्ष्मण मूर्छा, -मेघनाथ कुंभकरण वध -राम रान युद्ध

द्वारा प्रकाशित किया गया था: नई दुनिया न्यूज नेटवर्क

.



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *