हाइलाइट्स:

  • कानपुर पुलिस ने नकली ब्लैक फंगस इंजेक्शन की सप्लाई करने वाले विजय मौर्या को लखनऊ से अरेस्ट कर लिया है
  • प्रयागराज से पकड़े गए दोनों मेडिकल स्टोर संचालक विजय मौर्या से ही नकली इंजेक्शन खरीदते थे
  • विजय मौर्या ही यूपी का सबसे बड़ा सप्लायर था। ब्लैक फंगस के नकली इंजेक्शन का नेटवर्क सिर्फ यूपी ही नहीं बल्कि देश के कई राज्यों में फैला है

कानपुर
कानपुर पुलिस ने नकली ब्लैक फंगस इंजेक्शन की सप्लाई करने वाले विजय मौर्या को लखनऊ से अरेस्ट कर लिया है। प्रयागराज से पकड़े गए दोनों मेडिकल स्टोर संचालक विजय मौर्या से ही नकली इंजेक्शन खरीदते थे। विजय मौर्या ही यूपी का सबसे बड़ा सप्लायर था। ब्लैक फंगस के नकली इंजेक्शन का नेटवर्क सिर्फ यूपी ही नहीं बल्कि देश के कई राज्यों में फैला है। पुलिस की पूछताछ में विजय ने बताया कि नकली इंजेक्शन मुंबई और गुजरात में तैयार किए जाते हैं। पुलिस को विजय के मोबाइल फोन से कुछ अहम सुराग भी हाथ लगे हैं।

नकली इंजेक्शन की 68 शीशियां बरामद

27 मई को ग्वालटोली पुलिस ने भाजपा नेता प्रकाश मिश्रा और ज्ञानेश शर्मा को गिरफ्तार किया था। इनके पास से 68 ब्लैक फंगस के नकली इंजेक्शन बरामद हुए थे। प्रकाश मिश्रा खुद को बीजेपी नेता बताकर पुलिस कर्मियों पर रौब गांठ रहा था, और वर्दी उतरवाने की धमकी दी थी। भाजपा नेताओं के साथ प्रकाश मिश्रा की फोटो सोशल मीडिया पर वायरल हुई थी। पुलिस की पूछताछ में प्रकाश मिश्रा और ज्ञानेश ने बताया था कि प्रयागराज के मेडिकल स्टोर संचालक मधुरम वाजपेई और पंकज अग्रवाल ने इंजेक्शन मुहैया कराते थे। इनकी निशानदेही पर पुलिस ने दोनों मेडिकल स्टोर संचालकों को अरेस्ट किया था।

Coronavirus in Uttar Pradesh: नहीं लगाए थे मास्क, रेलवे ने 1782 यात्रियों का काटा चालान
कैसे पहुंची विजय मौर्या तक पुलिस
कानपुर पुलिस ने प्रयागराज से मेडिकल स्टोर संचालक मधुरम वाजपेई और पंकल अग्रवाल को अरेस्ट किया था। पुलिस की पूछताछ में मधुरम और पंकज ने बताया था कि ब्लैक फंगस के नकली इंजेक्शन लखनऊ कुर्सी रोड स्थित मोहित मेडिकल स्टोर संचालक विजय मौर्या से खरीदते थे। इसके बाद कानपुर पुलिस ने मंगलवार रात विजय मौर्या को लखनऊ से गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस की पूछताछ में विजय ने बताया कि नकली इंजेक्शन का नेटवर्क यूपी के साथ ही साथ महाराष्ट्र, गुजरात, दिल्ली तक फैला है। इसके साथ ही नकली ब्लैक इंजेक्शन की खेप महाराष्ट्र और गुजरात से खरीद कर लाते थे। इसके बाद उसकी सप्लाई यूपी के विभिन्न जिलों में की जाती थी। कानपुर पुलिस ने महाराष्ट्र और गुजरात पुलिस से संपर्क कर जानकरी साझा की है।

आरोपियों पर गैंगेस्टर और रासुका की होगी कार्रवाई
पुलिस कमिश्नर असीम अरूण ने बताया कि नकली ब्लैक फंगस के मामले में लखनऊ से मेडिकल स्टोर संचालक विजय मौर्या को अरेस्ट किया गया है। इस गैंग के और भी सदस्यों को अरेस्ट करने का प्रयास किया जा रहा है। पकड़े सभी सदस्यों पर गैंगेस्टर एक्ट और एनएसए के तहत कार्रवाई की जाएगी।

ब्लैक फंगस नकली इंजेक्शन मामला: पुलिस ने सरगना को लखनऊ से किया गिफ्तार, कई राज्यों में फैला नेटवर्क

ब्लैक फंगस नकली इंजेक्शन मामला: पुलिस ने सरगना को लखनऊ से किया गिफ्तार, कई राज्यों में फैला नेटवर्क



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *