– एडीजी क्राइम समेत आला अधिकारियों ने डेरा डाला
– तीन उपखण्ड क्षेत्र में इंटरनेट सेवाएं बंद, कस्बा बंद रहा

झालावाड़, चौमहला. झालावाड़ जिले के गंगधार कस्बे में सोमवार शाम को एक युवक के साथ हुई मारपीट की घटना के बाद उपजे तनाव, पथराव और आगजनी की घटना के बाद मंगलवार को कस्बे में स्थिति पूरी तरह नियंत्रण में रही। घटना के बाद से कस्बे में सन्नाटा छाया हुआ है। बाजार नहीं खुले। एहतियात के तौर पर भारी पुलिस जाप्ता तैनात किया गया है। कोटा संभागीय आयुक्त के.सी. मीणा और कोटा रेंज के पुलिस महानिरीक्षक रविदत्त गौड़ ने मौके पर पहुंचकर उत्पन्न स्थिति की समीक्षा की और नुकसान का जायजा लिया। एडीजी क्राइम ने भी यहां पहुंचकर घटना की जानकारी ली। गंगधार, भवानीमंडी और पिड़ावा उपखण्ड क्षेत्र में इंटरनेट सेवाएं रविवार देर रात ही बंद कर दी गई थी। पुलिस ने तोड़तोड़ और आगजनी की घटना के मामले में अब तक 38 लोगों को डिटेन किया है। जिला कलक्टर और पुलिस अधीक्षक रात से ही गंगधार में डेरा डाले हुए हैं। झालावाड़ एसपी डॉ. किरण कंग सिद्धू ने बताया कि सोमवार शाम को जितेन्द्रसिंह लकड़ी कटाने के लिए आरा मशीन पर गया था। इस दौरान तीन युवकों ने उससे मारपीट कर दी थी। पुलिस ने इस मामले में तीन आरोपियों को दस्तयाब कर लिया था, लेकिन किसी ने जितेन्द्र सिंह के गोली मारने की अफवाह सोशल मीडिया पर फैला दी। इससे अचानक लोग आक्रोशित हो गए और आगजनी और पथराव की घटना को अंजाम दिया। भीड़ ने आरा मशीन और आसपास की थडिय़ों में आग लगा दी। आगजनी में तीन-चार कारें भी खाक हो गई। एसपी ने बताया कि दोनों पक्षों की ओर से रिपोर्ट दर्ज कर ली गई है। अब तक कुल 38 लोगों को डिटेन कर लिया गया है। गंगधार में तनाव की स्थिति को देखते हुए तथा सोशल मीडिया पर चल रहे मैसेजों को देखते हुए देर रात्रि इंटरनेट सेवा बन्द कर दी गई तथा अतिरिक्त पुलिस जाप्ता पहुंचने के बाद दोनों कस्बों की सीमा सील कर दी गई है। चारों पुलिस उप अधीक्षक, स्पेशल टास्क फोर्स कोटा, कमांडो फोर्स, कोटा ग्रामीण का जाप्ता यहां तैनात किया गया है।





Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *