– बिजली लाइन हटाने की मांग

पाली/सादड़ी। जिले के फालना पर प्रतापगढ़ झुंपा बस्ती में सोमवार रात घर के ऊपर से जा रही बिजली लाइन की चपेट में आने से एक युवक की मौके पर मौत के बाद परिजन भडक़ गए। मंगलवार को उन्होंने डिस्कॉम के खिलाफ प्रदर्शन किया। उन्होंने मुआवजा मांगा और घर के ऊपर से निकल रही बिजली लाइन को हटाने की मांग की। इसको लेकर शव उठाने से इनकार कर दिया। समझाइश व विधायक पुष्पेन्द्र सिंह राणावत के आश्वासन के बाद 19 घंटे बाद शव उठाया गया। शव पोस्टमार्टम के बाद परिजनों को सौंप दिया गया।

पुलिस थानाधिकारी सुरजाराम जाखड़ ने बताया कि प्रतापगढ़ बावरियों का झुंपा निवासी डूंगाराम पुत्र लखमाराम बावरी, जो मूर्ति कलाकार था, उसक करंट से मौत हो गई थी। मंगलवार सुबह परिजन व ग्रामीण अस्पताल परिसर में इक_ा हुए। ग्रामीणों ने डिस्कॉम के प्रति लापरवाही का आरोप लगाते हुए व मृतक के परिजनों को मुआवजा दिलाने व बिजली लाइन हटाने की मांग को लेकर शव उठाने से मना कर दिया। इस पर पालिकाध्यक्ष खुमी बावरी, उपाध्यक्ष हीराराम जाट, पूर्व उपाध्यक्ष सुरेशपुरी गोस्वामी, पार्षद शंकर बावरी की मध्यस्थता में डिस्कॉम कनिष्ठ अभियंता तौकीर हुसैन द्वारा ग्रामीणों को उच्च अधिकारियों से बात करवाकर उचित मुआवजा दिलाने का भरोसा दिलाया। भाजपा नेता गणेशराम बावरी ने पूर्व ऊर्जामंत्री व बाली विधायक पुष्पेंद्र सिंह राणावत से वार्ता कर घरों के ऊपर से निकल रही बिजली लाइन को हटाने का आग्रह किया। इस पर विधायक राणावत ने जल्द ही बिजली लाइन हटवाने व मृतक के परिजनों को उचित मुआवजा दिलाने का भरोसा दिलाया। तब परिजन व ग्रामीण शव का पोस्टमार्टम कराने को राजी हुए। पुलिस ने मृतक के भाई शंकरलाल बावरी की रिपोर्ट पर मामला दर्ज कर शव पोस्टमार्टम बाद परिजनों को सौप दिया।

कई बार बिजली लाइन हटाने की मांग की, नहीं माने, आखिर हादसा
ग्रामीणों ने बताया मृतक डूंगाराम बावरी का परिवार आर्थिक रूप से कमजोर है। मूर्तियां बनाकर व मजदूरी से घर परिवार का गुजारा करता था, साथ ही घर मे कमाने वाला अकेला व्यक्ति था। मृतक डूंगाराम बावरी की दो छोटी बेटियां दो माह व चार साल की है। घर के कमाऊ पुत्र की अकाल मृत्यु से परिवार का रो रो कर बुरा हाल है। मृतक की पत्नी व बच्चों के आंसू थमने का नाम नही ले रहे थे। मृतक की पत्नी व ग्रामीणों का एक ही कहना है कि घर के ऊपर से गुजर रही बिजली के तार को लेकर कई बार डिस्कॉम को हटाने के लिए कहा लेकिन कार्रवाई नही हुई। डिस्कॉम ने बिजली तार हटा दिए होते तो सम्भव यह हादसा नही होता।

डिस्कॉम अधिकारियों ने किया मौका मुआयना
डिस्कॉम सहायक अभियंता मनोज कुमार व कनिष्ठ अभियंता तौकीर हुसैन ने घटनास्थल का मौका मुआयना कर जल्द ही मुआवजा व उचित कार्यवाही का आश्वासन दिया।







Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *