नागेंद्र नारायण, बेतिया
बिहार के पश्चिम चंपारण जिले के बेतिया सब डिविजन क्षेत्र से घरेलू हिंसा का एक अजीबोगरीब मामला सामने आया है। यहां 7 साल की बच्ची के साथ घर की मालकिन ने ही हैवानियत की है। आरोपी महिला ने पहले तो बच्ची को बुरी तरह से पीटा और फिर उसके प्राइवेट पार्ट पर धारदार चीज से मारकर घायल कर दिया। घायल बच्ची को इलाज के लिए गवर्नमेंट मेडिकल कॉलेज अस्पताल, बेतिया में भर्ती कराया गया है।


मिली जानकारी के मुताबिक, घटना कालीबाग ओपी क्षेत्र के बसंतटोला की है। बताया जा रहा हैं कि मैनाटांड थाना क्षेत्र के बष्ठा गांव निवासी शेख मैनुल्लाह की सात साल की बेटी बसंत टोला स्थित किसी वकील मिंया के घर पर रह कर घर का काम करती थी। इसी बीच वकील के बेटे अख्तर नक्की की पत्नी ने बच्ची से मारपीट की और उसके प्राइवेट पार्ट पर कोई धारदार चीज मारी। जिससे बच्ची घायल हो गई। इसके बाद बच्ची को घर से निकाल दिया। बच्ची को भटकता देख स्थानीए लोगों ने इसकी सूचना बच्ची के परिजनों और पुलिस को दी।

दहेज के लिए गर्भवती पत्नी की हत्या कर लगा दी आग, इतने से भी दिल न भरा तो लाश के टुकड़े कर जमीन में दफनाया

‘मालकिन ने आज फोन कर बताया कि बच्ची भाग गई’
बच्ची के परिजन भी मौके पर पहुंचे और बताया कि कल ही बच्ची को घर भेजने के लिए फोन किया तो घर की मालकिन ने कहा कि बच्ची ठीक है और आज फोन कर बताया कि बच्ची घर से भाग गई है। जबकि स्थानीए लोगों ने फोन कर बताया कि बच्ची के साथ बुरी तरह मारपीट की गई। बच्ची को स्थानीए लोगों ने अपने घर पर रखा हैं।

प्रेमिका के साथ फरार हुआ प्रेमी तो महिला के परिजनों ने युवक के छोटे भाई की अगवा कर की हत्या, नदी में मिली लाश

‘बच्ची को घर का छोटा मोटा काम करने के लिए भेजा था’
वहीं बच्ची की मां ने बताया कि वह काफी गरीब हैं। इसलिए बच्ची को घर का छोटा मोटा काम करने के लिए भेजा था। लेकिन वहां पर उसके साथ ऐसा बर्ताव किया गया है। बरहाल पुलिस ने बच्ची को इलाज के लिए गवर्नमेंट मेडिकल कॉलेज अस्पताल में भर्ती करा दिया हैं और मामले की छानबीन में जुट गई हैं।

अस्पताल में भर्ती बच्ची



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *