बेतिया
पश्चिम चंपारण के वीटीआर के मानपुर जंगल में दो बाघों के आपसे वर्चस्व में एक बाघ की मौत हो गई। मानपुर जंगल से सटे गन्ने के खेत में बाघ का शव देख लोगों में हड़कंप मच गया। घटना मंगलवार देर रात की बताई जा रही है। घटना की जानकारी मिलते ही वन विभाग की टीम मौके पर पहुंच कर जांच में जुट गई।


मिली जानकारी के मुताबिक, एसएसबी कैंप से सटे मानसरोवर दह क्षेत्र में बुधवार की अहले सुबह चरवाहा मवेशी चराने निकले थे, तभी मिकी चौरसिया के गन्ने के खेत में मृत पड़े रॉयल बंगाल टाइगर पर लोगों की नजर पड़ी। बाघ का शव देखते ही लोगों में हड़कंप मच गया और इसकी सूचना मानपुर पुलिस और वन विभाग को दी।

बेटी के जन्म पर पिता ने की खुदकुशी की कोशिश, अपनाने से किया इनकार, पढ़िए आगे क्या हुआ

दो बाघों की लड़ाई में हुई बाघ की मौत
सूचना मिलते ही वन विभाग के निर्देशक हेमकांत राय, मानपुर थाना अध्यक्ष विकास कुमार तिवारी, डीएफओ अमरेश पाल, तीन लालटेन के एसएसबी के जवान की टीम घटनास्थल पहुंचकर जांच-पड़ताल में जुट गई। इस मामले पर वीटीआर के निदेशक हेमकांत राय ने बताया कि बाघ के शरीर के अलग-अलग अंगों पर जख्म के निशान हैं। शरीर से रक्त भी बह रहा है। इससे प्रतीत हो रहा है कि दो बाघों की आपसी लड़ाई से बाघ की मौत हुई है।

Navratri 2021 Ashtami Special : मां दुर्गा का मुस्लिम भक्त, पिछले तीन साल से नवरात्र में 9 दिन का व्रत रख करता है पूजा-पाठ

बाघ के शव को पोस्टमार्टम के लिए भिजवाया
उन्होंने बताया कि बाघ के शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए मूंगराहा वन रेंज को भिजवा दिया गया है। मामले की जांच पड़ताल की जा रही है। निदेशक राय ने बताया कि जंगल से सटे लोगों को सजग और सतर्क रहने के कहा गया है।

Bettiah News : जंगल में वर्चस्व की लड़ाई में एक बाघ की मौत, गन्ने के खेत में पड़ा मिला शव, जानिए पूरा मामला



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

You missed