हाइलाइट्स

  • तेजस्वी बनेंगे RJD के राष्ट्रीय अध्यक्ष?
  • क्या तेजप्रताप को मिलेगी बिहार की कमान?
  • क्या लालू लेंगे रामविलास की तरह फैसला?
  • बिहार की राजनीति में अंदरखाने चर्चा हुई तेज

पटना:
बिहार की राजनीति में लालू परिवार और राष्ट्रीय जनता दल (RJD Latest News and Updates) से जुड़ी दो अटकलों ने हलचल मचा दी है। पहली अटकल ये कि तेजस्वी यादव अब लालू की जगह आरजेडी के राष्ट्रीय अध्यक्ष बनाए जा सकते हैं। दूसरी अटकल कुछ ज्यादा खास है, चर्चा इस बात की है कि तेजप्रताप यादव RJD के प्रदेश अध्यक्ष बनाए जा सकते हैं।

तेजप्रताप के बिहार आरजेडी अध्यक्ष की चर्चा की वजह जानिए
आखिर तेजस्वी और तेजप्रताप की ताजपोशी की ये चर्चा क्यों शुरू हुई। इसके लिए आपको थोड़ा फ्लैशबैक में जाना होगा। वो तारीख थी 5 जुलाई, यानि इसी महीने की वो तारीख जब आरजेडी की स्थापना की रजत जयंती मनाई जा रही थी। इसी मंच से तेजप्रताप ने कहा था कि ‘तेजस्वी यादव को तो ज्यादा वक्त नहीं मिलता है, लेकिन मैं तो हमेशा पार्टी कार्यालय आता रहता हूं। तेजस्वी यादव तो देश-दुनिया में व्यस्त रहते हैं। जब वह दिल्ली चले जाते हैं तो तो मैं यहां आकर मोर्चा संभालता हूं।’
RJD Rajat Jayanti News : मुझे पूजा पाठ में देर हो गई तो तेजस्वी पहले आकर मंच पर बैठ गए… बिहार की जनता को क्या मैसेज दे गए तेजप्रताप यादव?क्या वो ये कहना चाह रहे थे कि देश की राजनीति को तेजस्वी बतौर आरजेडी अध्यक्ष संभालेंगे और बिहार की राजनीति बतौर प्रदेश अध्यक्ष तेजप्रताप? आखिर तेजप्रताप ने ये बात किस वजह से कही? माना जा रहा है कि जल्द ही लालू अपनी तबीयत को देखते हुए कोई बड़ा फैसला ले सकते हैं।

ऐसे शुरु हुई चर्चा

आरजेडी सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव (Lalu Prasad Yadav) से आरजेडी के बिहार प्रदेश अध्‍यक्ष जगदानंद सिंह ने रविवार को दिल्‍ली में मुलाकात की। जिसके बाद लालू ने तेजस्‍वी यादव (Tejashwi Yadav) को सोमवार को दिल्‍ली तलब कर लिया। इसी घटनाक्रम के बाद राजद में बदलाव की सुगबुगाहट तेज हो गई। सूत्रों के मुताबिक, लालू यादव से जगदानंद सिंह ने इसी सिलसिले में मुलाकात की।

Lalu Yadav News : समस्तीपुर में चौंक गया चरवाहा जब वीडियो कॉल पर आई आवाज- हैलो… हम लालू यादव बोल रहे हैं

लालू की इच्छा है तेजस्वी की ताजपोशी- सूत्र
पार्टी सूत्रों के मुताबिक, पिछले काफी समय से बीमार चल रहे लालू यादव चाहते हैं कि राजद के प्रदेश अध्यक्ष जगदानंद सिंह के पद पर रहते हुए ही तेजस्वी को पार्टी का राष्ट्रीय अध्यक्ष बना दिया जाए। सूत्रों के मुताबिक, 2020 में हुए विधानसभा चुनाव में तेजस्वी यादव के नेतृत्व में पार्टी ने दमदार प्रदर्शन किया। महागठबंधन को 110 सीटें मिली थी, जिसमे से 75 सीट राजद के खाते में आई थी। पार्टी के लिए तेजस्वी यादव जिस तरह से मेहनत कर रहे हैं, उससे लालू यादव खुश हैं और चाहते हैं कि पार्टी के बड़े फैसले अब तेजस्वी यादव लें और वे संरक्षक की भूमिका में रहें।

इससे पहले बीती 9 जुलाई को तब हड़कम्‍प मच गया था, जब जगदानंद सिंह के पार्टी अध्‍यक्ष पद से इस्‍तीफा देने की खबर सामने आई थी। हालांकि, लालू यादव ने उस समय जगदानंद सिंह को मना लिया। तब जगदानंद सिंह ने अपने इस्‍तीफे की न तो पुष्टि की, न ही खारिज किया। उधर, आरजेडी ने इसे अफवाह बताया। लेकिन NBT के सूत्रों ने इस बात की पुष्टि की थी। उस मामले के बारे में जानने के लिए क्लिक करें नीचे

Bihar Politics : आरजेडी के प्रदेश अध्यक्ष जगदानंद सिंह ने दिया इस्तीफा- सूत्र, डैमेज कंट्रोल में जुटी पार्टी
क्या तेजप्रताप के व्यवहार से जगदानंद सिंह को पहुंची ठेस?
इस पूरे प्रकरण के बाद इस बात की चर्चा हुई थी कि लालू के बड़े बेटे तेजप्रताप के व्यवहार से जगदानंद सिंह काफी दुखी थे। सियासी गलियारे में ये भी चर्चा है कि कई मौकों पर तेजप्रताप ने उन्हें एक तरह से अपमानित किया था। बीती 5 जुलाई को आरजेडी की स्थापना के रजत जयंती कार्यक्रम में भी तेजप्रताप ने उनपर कटाक्ष करते हुए कहा था कि ‘जगदानंद अंकल नाराज हैं क्या?’



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *