– पिता बोले इलाज को लेकर चिंता हो रही खत्म, शीघ्र स्वस्थ होने की प्रार्थना

By: Dilip dave

Published: 09 Oct 2021, 10:27 PM IST

बाड़मेर. बिशाला गांव की किशोरी भावना के इलाज को लेकर पिता की चिंता खत्म होने की उम्मीद जगी है। राजस्थान पत्रिका में समाचार प्रकाशित होने के बाद बिशाला गांव के युवाओं ने सोशल मीडिया पर ग्रुप बना मदद के लिए अभियान चलाया। इस पर तीस हजार रुपए एकत्र हुए हैं जो भावना के पिता मगाराम सांसी को देने की घोषणा की गई।

गौरतलब है कि बिशाला निवासी भावना को पेट दर्द होने पर परिजन बाड़मेर के अस्पताल में लेकर आए जहां इलाज के बावजूद उसकी तबीयत नहीं सुधरी, जिस पर जोधपुर लेकर गए। जहां पता चला कि उसके आंत में इनफेक्सन है जिसके बाद दो बार ऑपरेशन किया गया, लेकिन तबीयत नहीं सुधरी। वह तीन माह से चारपाई पकड़े हुए हैं। पिता बीपीएल होने के कारण जोधपुर आने-जाने, रुकने व खाने-पीने का प्रबंध उसके बूते के बाहर था। भावना और उसके पिता की इस पीड़ा को राजस्थान पत्रिका ने ८ अक्टूबर के अंक में ‘बीपीएल परिवार की बेटी तीन माह से बिस्तर पर, दो लाख हो चुके खर्च ’ शीर्षक से समाचार प्रकाशित किया।

एबीवीपी कॉलेज इकाई बाड़मेर के पूर्व उपाध्यक्ष उगमसिंह बिशाला ने बताया कि युवाओं की मुहिम पर लोगों के सहयोग से 30 हजार रुपए इक_े हुए हैं। उन्होंने समाचार प्रकाशित करने पर राजस्थान पत्रिका का बिशाला गांव की ओर से आभार जताया। भावना के पित मगाराम ने कहा कि पत्रिका के मुद्दे उठाने के बाद मदद के लिए लोग आगे आ रहे हैं। एेसे में २० अक्टूबर को ऑपरेशन से पहले पर्याप्त मदद की उम्मीद बंधी है।







Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *