प्रयागराज
प्रयागराज,अल्लापुर मठ में महंत नरेंद्र गिरी की मर्डर मिस्ट्री कांड की जांच कर रही सीबीआई ने रविवार को मठ में क्राइम सीन रीक्रिएट किया तो सोमवार को एक बार फिर सीबीआई टीम ने अल्लापुर मठ पहुंचकर अपनी तफ्तीश शुरू कर दी। रविवार को सीबीआई ने रुई से भरे बोरे में 85 किलो के बटखरों को रखकर पंखे से लटकाया गया। इसके बाद सेवादारों से रस्सी काटकर बोरे को उतरवाया गया। इस दौरान पूरे क्राइम सीन की वीडियोग्राफी को भी सीबीआई ने करवाई। घटना वाले दिन सबसे पहले पहुंचने वाले पुलिसकर्मियों को भी बुलाकर सीबीआई ने पूछताछ की।

मर्डर मिस्ट्री सुलझाने में जुटी सीबीआई
अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत नरेंद्र गिरि की मर्डर मिस्ट्री सुलझाने के लिए सीबीआई पिछले 2 दिनों से मठ में जांच कर रही है। अल्लापुर मठ में रविवार को सीबीआई ने क्राइम सीन रीक्रिएट करने के लिए सेवादार सुमित तिवारी, सर्वेश द्विवेदी और धनंजय के साथ उन सभी को बुलाया गया था जो घटना वाले दिन महंत नरेंद्र गिरी के आस पास थे। घटना को दोहराए जाने से पहले रुई से भरे बोरे में 20-20 किलो के चार और पांच किलो का एक बटखरा रखा गया। इसके बाद गेस्ट हाउस के उसी कमरे और पंखे से बोरे को नॉयलान की रस्सी से लटका दिया गया। इसके बाद सीबीआई ने सेवादारों को पहले सब कुछ समझा दिया उसके बाद जो भी घटना वाले दिन हुआ था, उसे हूबहू दोहराना को कहा।

महंत नरेंद्र गिरी के ड्राइवर का बयान- घटना के दिन महाराज जी मठ से बाहर नहीं गए थे
सेवादारों से घटना वाले दिन का व्यवहार दोहराने को कहा
सीबीआई ने सेवादारों से घटना वाले दिन किस तरह व्यवहार किया था उसे भी दोहराने को बोला। 20 सितंबर की शाम को सर्वेश ने नरेंद्र गिरि को फोन किया था। जब फोन बंद मिला तो सुमित और धनंजय उन्हें बुलाने गए थे। यहीं से क्राइम सीन की शुरूआत सीबीआई ने करवाई। जब दरवाजा नहीं खुला तो सुमित और सर्वेश ने धक्का देकर सिटकनी तोड़ी। फिर वे धनंजय के साथ कमरे में गए। वहां रस्सी काटकर बोरे को नीचे जमीन पर रखा गया। इसके बाद उन लोगों ने जिन-जिन लोगों को मोबाइल से घटना की जानकारी दी थी। उन सबको फोन कराए गए। सीबीआई मठ के उत्तराधिकारी बलवीर से भी पूछताछ कर रही है।

तीसरे दिन मठ बाघम्बरी पहुंची CBI
रविवार के बाद फिर से CBI टीम तीसरे दिन मठ बाघम्बरी पहुंच गई और मेन गेट से 10.30 बजे मठ के अंदर प्रवेश किया। वहीं दूसरी ओर सीबीआई की एक टीम पिछले गेट से अंदर दाखिल हुई। इस दौरान सीबीआई टीम के साथ फॉरेंसिक एक्सपर्ट भी मौजूद थे। ऐसा कहां जा रहा है एक बार फिर से सीबीआई टीम रविवार की तरह सोमवार को भी क्राइम सीन का रिक्रिएशन कर घटना के दिन मौजूद लोगों से पूछताछ करेगी। इसके साथ ही मठ के दूसरे उत्तराधिकारी बलवीर गिरी से सीबीआई पूछताछ कर सकती है।

रविवार को इस तरह किया था सीबीआई टीम ने रिक्रिएशन
सीबीआई ने मठ में उस दिन मौजूद सभी लोगों से ये कहा कि जो बात उस दिन कही थी उसे ही दोहराएं। सीबीआई पूरे क्राइम सीन की वीडियोग्राफी करवा रही है। इसके साथ ही सीबीआई के साथ आए फोरेंसिक और फिंगर प्रिंट एक्सपर्ट भी इस पूरे वाकये पर नजर बनाए हुए थे। घटना के बाद जो जो लोग कमरे में पहुंचे थे, उन्हें भी बुलाया गया। घटना के बाद सबसे पहले आने वाले पुलिस वालों से भी पूछताछ की गई। और इस मर्डर मिस्ट्री से जुड़े हर एक पहलू की जांच सीबीआई ने की। इसके अलावा सीबीआई ने आज बनी समाधि स्थल की तरफ लाइट भी जलवा दी। हालांकि, यह साफ नहीं हो पाया कि सीबीआई ने यह लाइट समाधि स्थल की तरफ क्योंं लगवाई है।



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *