-पुलिस परिवार के सदस्यों के विवाह समारोह में होगा उपयोग

जैसलमेर. पुलिस सेवा से जुड़े अधिकारियों व कर्मचारियों को अब अपने परिवार के सदस्यों के विवाह के लिए भवन के लिए भटकने की जरूरत नहीं है। यहां पुलिस लाइन परिसर में मैरिज गार्डन की सुविधा शुरू की गई है। पुलिस अधीक्षक डॉ. अजयसिंह की ओर से पुलिस लाइन परिसर में मैरिज गार्डन का उद्घाटन किया गया। पुलिस अधीक्षक डॉ. अजयसिंह ने बताया कि पुलिस परिवार के सदस्यों के शादी समारोह में स्थान को लेकर कई समस्याओं का सामना करना पडता है। समस्या का निराकरण करने के लिए पुलिस लाइन परिसर में अपनी देखरेख में एक मैरिज गार्डन तैयार करवाया, जिसका उद्घाटन किया गया है। पुलिस परिवार के सदस्यों के शादी समारोह में उपयोग किया जाएगा। आमजन को भी शादी व समारोह के लिए पुलिस कल्याण समिति की अनुशंसा पर निर्धारित दर पर उपलब्ध करवाया जाएगा। पुलिस लाइन परिसर में नवनिर्मित मैरिज गार्डन का उपयोग पुलिस परिवार के सदस्यों के शादी समारोह और अन्य कार्यक्रमोंका आयोजन करने में उनके द्वारा निर्धारित राशि जमा करवाने पर प्राथमिकता के आधार पर उपलब्ध करवाया जाएगा। इसका संचालन एवं रख-रखाव पुलिस कल्याण समिति की ओर से किया जाएगा। समिति की अनुशंसा पर आमजन को भी शादी व समारोह के लिए निर्धारित राशि जमा करवाने पर उपलब्ध करवाया जाएगा। इस अवसर पर पुलिस के अधिकारी व जवान उपस्थित थे।
इनकी रही मौजूदगी
पुलिस लाइन परिसर में मैरिज गार्डन के उद्घाटन के अवसर पर नरेन्द्र चौधरी अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक, फाउलाल आरपीएस, एससीएसटी सैल, श्यामसुन्दरसिंह आरपीएस वृत्ताधिकारी वृत्त जैसलमेर, प्रेमदान थानाधिकारी पुलिस थाना कोतवाली, जैसलमेर, दलपतसिंह उप निरीक्षक, भोमसिंह सहायक उप निरीक्षक एलओ पुलिस लाइन, जैसलमेर तथा जिला मुख्यालय पर उपस्थित पुलिस के अधिकारी व कर्मचारी उपस्थित थे। इस दौरान पुलिस अधीक्षक की ओर से मैरिज गार्डन तैयार करने में सराहनीय कार्य करने वाले पुलिस बल की मुक्तकंठ से प्रशंसा की।
पलिस अधीक्षक ने किया पौधरोपण
मैरिज गार्डन पुलिस लाइन परिसर में जिला पुलिस अधीक्षक की ओर से इस अवसर पर मैरिज गार्डन में पौधरोपण कर पौधरोपण की आवश्यकता और इसके महत्व के बारे में जानकारी दी। पुलिस लाइन परिसर में लगाए गए पेड़ पौधों की सुरक्षा सुनिश्चित करने के निर्देश दिए।





Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *