संदीप कुमार, मुजफ्फरपुर
बिहार लोक सेवा आयोग (बीपीएससी) ने गुरुवार को 65 वीं संयुक्त प्रतियोगी परीक्षा का अंतिम रिजल्ट घोषित कर दिया है। इसमें मुजफ्फरपुर जिले के एक किसान के बेटे राजीव कुमार सिंह ने सफलता हासिल करते हुए डीएसपी का पद पाया है। जिले के कटरा के धनौर गांव के रहने वाले राजीव कुमार सिंह ने बीपीएससी 65वीं परीक्षा में 45वी रैंक लाए हैं।

राजीव के डीएसपी होने की जानकारी मिलते ही गांव और घर में खुशी का माहौल हो गया है। राजीव कुमार सिंह के पिता राम लक्ष्मण सिंह किसान हैं। गांव में ही रहकर खेती करते हैं। राजीव ने मैट्रिक तक की पढ़ाई गांव के ही धनौर हाई स्कूल में की है।

BPSC 65th Result 2021: मुजफ्फरपुर के कपड़ा व्यवसायी की बेटी ने लहराया परचम, सदफ आलम को मिला SDM का पद

बेटे राजीव की सफलता के पीछे कठिन संघर्ष
राजीव के पिता वीरेन्द्र सिंह ने बताया कि बेटे की सफलता के पीछे कठिन संघर्ष है। परिवार की आर्थिक तंगी होते हुए भी बच्चों की पढ़ाई में कभी किसी तरह की कमी नहीं होने दी। राजीव बचपन से मेधावी रहे हैं। हालांकि मैट्रिक में एक नंबर से फेल हो गए थे। लेकिन उसने कभी हिम्मत नहीं हारी।

BPSC 65th Result 2021: बिहार लोक सेवा आयोग 65वीं के टॉपर गौरव सिंह की कामयाबी की कहानी, उन्हीं की जुबानी

कस्टम सुपरिटेंडेंट के पद पर काम करते हुए पाई सफलता
वर्ष 1999 में एक नंम्बर से मैट्रिक फेल करने के बाद भी कटरा के धनौर गांव के रहने वाले राजीव कुमार सिंह ने हिम्मत नहीं हारी। दूसरी बार में मैट्रिक फर्स्ट डिवीजन से पास किया। इसके बाद 2002 में इंटर पास करते ही CISF में क्लर्क की नौकरी मिल गई। भिलाई स्टील प्लांट में नौकरी की, फिर 2009 में सेंट्रल एक्साइज में टैक्स असिस्टेंट के रूप में जॉइन किया। कस्टम में इंस्पेक्टर की नौकरी की। वर्तमान में कस्टम सुपरिटेंडेंट के पद पर काम करते हुए बिहार लोक सेवा आयोग (बीपीएससी) 65वीं में 45वी रैंक लाकर डीएसपी बन गए हैं।

राजीव कुमार (फाइल फोटो)



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *