राज्य सरकार प्रदेश के हर ब्लॉक में राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के नाम से राजकीय अंग्रेजी माध्यमिक स्कूल खोलती आ रही, लेकिन कोटा के भीमगंज मंडी क्षेत्र में जवाहरलाल नेहरू के नाम से राजकीय अंग्रेजी माध्यमिक स्कूल खुलेगी।

अभिषेक गुप्ता

कोटा. राज्य सरकार प्रदेश के हर ब्लॉक में राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के नाम से राजकीय अंग्रेजी माध्यमिक स्कूल खोलती आ रही, लेकिन कोटा के भीमगंज मंडी क्षेत्र में जवाहरलाल नेहरू के नाम से राजकीय अंग्रेजी माध्यमिक स्कूल खुलेगी। दरअसल जिस स्कूल को अंग्रेजी माध्यम में बदलने का प्रस्ताव है, उस स्कूल का वर्तमान नाम जवाहरलाल नेहरू उच्च माध्यमिक विद्यालय है। स्कूल का नाम देश के प्रथम प्रधानमंत्री के नाम से होने के कारण इसका नाम नहीं बदलने का प्रस्ताव तैयार किया है। शिक्षा विभाग ने प्रस्ताव तैयार कर शिक्षा निदेशालय बीकानेर भेजा है।
प्रस्ताव के अनुसार कोटा के भीमगंज मंडी स्थित स्कूल जवाहरलाल नेहरू के नाम से ही रहेगी। इसमें अंग्रेजी माध्यम जोड़कर स्कूल का नाम राजकीय जवाहरलाल नेहरू अंग्रेजी उच्च माध्यमिक विद्यालय किया जाएगा।

इसलिए नहीं बदला नाम

जिला शिक्षा अधिकारी(माध्यमिक मुख्यालय कोटा ) गंगाधर मीणा ने बताया कि देशहित में कार्य करने वाले महापुरुषों व शहीदों के नाम से स्कूलों का नाम नहीं बदला जाएगा। पंडित जहवारलाल देश के प्रथम प्रधानमंत्री रहे। पिछले दिनों कोटा के शहीद अजय आहुजा राजकीय माध्यमिक विद्यालय भीमगंजमंडी को भी बंद कर दिया था, लेकिन बाद में शहीद के नाम से उस स्कूल को पुन: खोलना पड़ा था।

आजादी से पहले का है स्कूल
स्कूल के प्रिंसिपल अनिल वशिष्ठ ने बताया कि जवाहरलाल नेहरू स्कूल में आठ कमरे व एक बड़ा हॉल है। वर्तमान में इस स्कूल में 280 विद्यार्थी अध्ययनरत है। यह स्कूल करीब 1943 से चल रहा है। इस स्कूल से बॉस्केटबॉल से भी नेशनल स्तर पर खिलाड़ी चुने गए हैं। स्कूल में वर्तमान में बॉस्केटबॉल का बड़ा कोर्ट है। बीकानेर शिक्षा निदेशालय के एडीईओ भीष्म महर्षि ने बताया कि वैसे किसी महापुरुष व शहीद के नाम से स्कूल के नाम को नहीं बदला जाता है। कोटा के जवाहरलाल नेहरु स्कूल को अंग्रेजी माध्यम में करने का प्रस्ताव है, तो स्कूल का नाम नहीं बदला जाएगा। उसे सीधे अंग्रेजी माध्यम में किया जााएगा।











Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *