1 लाख 57 हजार 930 श्रमिको को मिला रोजगार

325 में से 319 ग्राम पंचायतों में काम शुरू

2972 जगहों पर चल रहा काम

16 हजार 931 मस्टररोल जारी

अजमेर. जिले में महात्मा गांधी नरेगा योजना के ग्रामीणों के लिए रोजगार का सहारा बन कर उभरी है। जिले के ग्रामीणों क्षेत्रों में इन दिनों 1 लाख 57 हजार 930 श्रमिक नरेगा के तहत कार्य कर रहे है। नरेगा के तहत जिला रोजगार उपलब्ध करवाने में राज्य में तीसरे नम्बर पर है। डूंगरपुर पहले और बांसवाड़ा दूसरे नम्बर पर है। अजमेर जिले की जिले की 325 में से 319 पंचायतों में 2 हजार 972 जगहों पर नरेगा के तहत काम चल रहा है। 16 हजार 931 मस्टररोल जारी किए गए है। जिला परिषद के सीईओ डॉ.गौरव सैनी के अनुसार ग्रामीण विकास एवं पंचायतीराज विभाग के माध्यम से जिले के गांवों में काम शुरू करवा दिए गए हैं। ग्राम पंचायतों में व्यक्तिगत एवं सामुदायिक श्रेणी के कार्य करवाए जा रहे हैं।

इन पंचायतों में हो रहा काम

अजमेर ग्रामीण पंचायत समिति की 41 ग्राम पंचायतों में 383 कामों पर 21720 श्रमिक नियोजित किए गए हैं। अरांई की 22 ग्राम पंचायतों में 163 कामों पर 6319, भिनाय की 25 ग्राम पंचायतों में 273 कामों पर 111641 श्रमिक लगाए गए हैं। जवाजा की 43 ग्राम पंचायतों में 262 कार्यों पर 10928, केकड़ी की 22 पंचायतों मे 257 कामों पर 13565, मसूदा की 40 ग्राम पंचायतों में 324 कार्यों पर 14871 श्रमिक, पीसांगन की 22 ग्राम पंचायतों में 215 कामों पर 11208, सरवाड़ की 26 पंचायतों मे 272 कामों पर 14329 श्रमिक, सावर की 20 ग्राम पंचायतों 232 कार्यों पर 13904,श्रीनगर की 25 पंचायतों में 229 कामों पर 18101 तथा सिलोरा की 33 पंचायतों में 371 कामों पर 21344 श्रमिक लगाए गए हैं।

यह है राज्य की स्थिति

राज्य की 11 हजार 349 ग्राम पंचायतों में से 10 हजार 228 ग्राम पंचायतों में 95 हजार 183 जगहों पर नरेगा के तहत काम करवाया जा रहा है। इन पर 26 लाख 54 हजार 702 श्रमिकों को नरेगा के तहत रोजगार दिया गया है। जिला परिषद सीईटो ने सभी उपखंड अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि मनरेगा कार्यो में कोविड गाइडलाइन की पूर्ण पालना करवाई जाए। कार्यस्थल पर साबुन, पानी, सैनेटाइजर आदि की समुचित व्यवस्था हो व हाथ अच्छी तरह से साबुन से धोने के बाद भेजन उचित दूरी बनाकर किया जाए।

read more: एडीए का1104 रुपए का काम अब होगा केवल 1 पैसे में















Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *