हाइलाइट्स:

  • राजस्थान के जोधपुर में पुलिस से जुड़ा संगीन मामला आया सामने
  • दो किलोग्राम अफीम डकारने के बाद तस्कर को लाखों रुपए लेकर छोड़ा
  • कुड़ी थाना प्रभारी व तीन कांस्टेबल सस्पेंड

जोधपुर
राजस्थान के जोधपुर में पुलिस से जुड़ा हैरान करने वाला मामला सामने आया है। यहां कुड़ी पुलिस थाना प्रभारी जुल्फीकार अली व तीन कांस्टेबलों की एक तस्कर के साथ मिलीभगत उजागर होने के बाद चारों को सस्पेंड कर दिया गया है। बताया जा रहा है कि दो दिन पूर्व तीन कांस्टेबलों ने एक तस्कर को पकड़ उसके पास से दो किलोग्राम अफीम जब्त की थी। इसके बाद कांस्टेबलों ने अफीम भी डकार ली और तस्कर से लाखों रुपए वसूल उसे छोड़ दिया। थाना प्रभारी को मामले की पूरी जानकारी थी, लेकिन वे जानबूझ कर अंजान बने रहे। इसकी शिकायत सामने आने पर पुलिस पुलिस कमिश्नर ने बुधवार को थाना प्रभारी को सस्पेंड कर दिया। जबकि तीन कांस्टेबलों को कल रात सस्पेंड किया गया।

राजस्थान कांग्रेस सरकार में फिर सामने आई कलह, कैबिनेट मीटिंग में क्यों भिड़े गहलोत के 2 मंत्री ?

अफीम पकड़ी जाने के बाद शुरू हुआ सौदेबाजी का खेल
जोधपुर पुलिस कमिश्नर जोस मोहन ने कुड़ी थाना प्रभारी जुल्फीकार अली, कांस्टेबल शांतिलाल, सरदार सिंह व ज्ञान चंद मीणा को सस्पेंड कर दिया। बताया जा रहा है कि तीनों कांस्टेबलों ने दो दिन पूर्व एक तस्कर को पकड़ दो किलोग्राम अफीम जब्त की। इसके बाद सौदेबाजी का दौर चला। कांस्टेबलों ने तस्कर से मोटी रकम वसूल की। अभी इसका पूरा खुलासा नहीं हुआ है कि कितने रुपए लिए। लेकिन बताया जा रहा है कि तीन से सात लाख रुपए में सौदा हुआ था।

Rajasthan Board Exams 2021: राजस्थान बोर्ड 10वीं और 12वीं की परीक्षाएं भी रद्द

पुलिस कमिश्नर ने की जांच, तो सामने आई सच्चाई
रुपए लेने के अलावा दो किलोग्राम अफीम भी अपने पास रख ली और तस्कर को छोड़ दिया। किसी ने मामले की शिकायत पुलिस कमिश्नर जोस मोहन से कर दी। उन्होंने अपने स्तर पर मामले की जांच कराई तो शिकायत सही पाई गई। जांच में यह सामने आया कि थाना प्रभारी जुल्फीकार अली को पूरे मामले की जानकारी थी, लेकिन उन्होंने कोई एक्शन नहीं लिया। इससे इस मामले में उनकी भी मिलीभगत सामने आई। ऐसे में सस्पेंशन की गाज उन पर भी गिरी। अब उनका मुख्यालय पुलिस कमिश्नर कार्यालय किया गया है।



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *