हाइलाइट्स

  • सवाई माधोपुर के झरेटी नाले में दो लोग बहे
  • बारिश के बाद नाला उफान पर है
  • पानी के बहाव में बहे दोनों लोगों की जान बची
  • आगे कम पानी में उन्हें बचाया गया

सवाई माधोपुर। राजस्थान के सवाई माधोपुर जिले में रविवार देर रात से शुरू बारिश का दौर सोमवार दोपहर तक लगातार जारी रहा । बारिश के चलते पूरा शहर पानी पानी हो गया। गली मोहल्लों सहित सभी जगहों पर हर तरफ पानी ही पानी नजर आया। शहर के बीचों बीच बहने वाला लटिया नाला पूरी भी तरह उफान पर है। वही नालों के उफान पर होने के बावजूद भी कई लोग लापरवाही करने से बाज नहीं आ रहे। ऐसा ही नजारा सवाई माधोपुर जिला मुख्यालय के नजदीकी शेरपुर खिलचीपुर रोड स्थित झरेटी नाले पर देखने को मिला। जहां 2 लोग नाले के उफान की परवाह नहीं कर सड़क पार करने पर उतारू हो गए। लेकिन पानी के बहाव के आगे उनकी एक नहीं चली और सैकड़ों लोगों की आंखों के सामने देखते ही देखते दोनों लोग पानी में बह गए।

पानी के तेज बहाव के चलते किसी की भी हिम्मत उन्हें बचाने की नहीं हुई। हालांकि गनीमत रही कि पानी के बहाव के साथ बहे लोगों को कुछ आगे जाकर कम पानी में बचा लिया गया। जिससे नाले में बहे दोनों लोगों की जान बच गई। तेज बारिश के चलते जिला मुख्यालय पर कई कॉलोनियों जलमग्न हो गईं हैं।

रणथम्भौर अभ्यारण्य का रास्ता बाधित
पुराने शहर और बजरिया में मुख्य बाजारों में पानी ही पानी हो गया है। बारिश ने कुछ ही घंटों में जहां नगर परिषद के दांवों की पोल खोलकर रख दी। वहीं आमजन की भी मुश्किलें बढ़ा दी है। रणथंभौर अभ्यारण से होकर गुजरने वाले टोंक चिरगांव नेशनल हाइवे 552 रणथंभौर के नालों में उफान आने के चलते बाधित हो गया है। हाइवे पर कुशालीदर्रा के नजदीक 4 से 5 फिट पानी बह रहा है। जिसकी वजह से यातायात बाधित है।

शहर में पानी भराव की आशंका

लटिया नाला अपने पूरे वेग से बह रहा है। बारिश के कारण पूरे शहर में हर तरफ पानी ही पानी नजर आ रहा। जिसकी वहज से अब लोगों की मुश्किलें बढ़ने लगी हैं। ऐसे में अगर कुछ घंटे और तेज बारिश हुई तो आमजन के साथ ही प्रशासन की भी मुश्किलें बढ़ सकती हैं। निचले रिहायसी इलाकों में पानी भर सकता है। हालांकि पानी की निकासी लगातार जारी है।



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *