भोपाल
मध्य प्रदेश सरकार ने सांडों की नसबंदी के आदेश (Order for sterilisation of bulls) को 24 घंटे के भीतर ही वापस ले लिया, लेकिन भोपाल की बीजेपी सांसद साध्वी प्रज्ञा (Bhopal MP Sadhvi Pragya) इससे संतुष्ट नहीं हैं। आदेश को साजिश बताते हुए उन्होंने कहा है कि वे सीएम (CM Shivraj Singh Chouhan) से पूरे मामले की जांच कराने की मांग करेंगी।

मंगलवार को पशुपालन विभाग ने अनुपयोगी सांडों की नसबंदी का आदेश जारी किया था। इसके ठीक बाद आदेश का विरोध भी शुरू हो गया था। भोपाल सांसद ने इस पर ऐतराज जताते हुए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और पशुपालन मंत्री प्रेम सिंह पटेल से आदेश वापस लेने की मांग की थी। सांसद ने नसबंदी के तरीके पर सवाल उठाए थे और गोवंश के खत्म होने का अंदेशा जताया था। सरकार ने बुधवार को 24 घंटे के अंदर यह आदेश वापस ले लिया।

यूपीएससी परीक्षा में सफल प्रतिभागियों को सीएम शिवराज ने किया सम्मानित, जाने सफलता के मंत्र, देखिए तस्वीरें

बुधवार शाम को सांसद ने बताया कि उन्होंने इस मामले को लेकर मुख्यमंत्री और पशुपालन मंत्री से बात की थी। इसके बाद सरकार ने आदेश वापस ले लिया। उन्होंने इसे अंदरूनी साजिश बताते हुए कहा है कि वे मुख्यमंत्री से इस पूरे मामले की जांच की मांग करेंगी।

MP Bye-Election News: रैगांव के रण में बागियों को साधने में सफल हुई बीजेपी, पूर्व विधायक की बहू ने रोते हुए वापस लिया नामांकन
कांग्रेस ने भी इसको लेकर शिवराज सरकार पर सवाल उठाए हैं। कांग्रेस ने कहा है कि पहले शराब की बिक्री बढ़ाने के लिए होने वाली मीटिंग रद्द की गई। अब 24 घंटे के भीतर इस आदेश को वापस ले लिया। ये सरकार चल रही है या सर्कस।



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *