– एक पक्ष ने दिया ज्ञापन, यात्रियों को होती है परेशानी

पोकरण. कस्बे से बीकानेर तक संचालित होने वाली निजी बसों के बीच रूट को लेकर विवाद बढ़ता जा रहा है तथा माहौल तनावपूर्ण होता नजर आ रहा है। गौरतलब है कि पोकरण से बीकानेर रूट पर चलने वाली दो निजी बसों के संचालकों के बीच रूट के समय को लेकर विवाद चल रहा है। 10 दिनों से चल रहा विवाद अब बढ़ते हुए सड़क पर आ गया है। सोमवार को दोनों निजी बसों के संचालक बस स्टैंड पर आमने-सामने हो गए। सूचना पर पुलिस ने मौके पर पहुंचकर समझाइश की तथा एहतियात के तौर पर दो बसों को जब्त किया। जिसके बाद एकबारगी मौके पर शांति हो गई। मंगलवार को सुबह करीब 11 बजे एक बार फिर एक बस संचालक की बस को रुकवा दिया गया। जिससे माहौल फिर गर्म हो गया। दोनों पक्ष के बड़ी संख्या में लोग मौके पर एकत्रित हो गए तथा विवाद बढऩे लगा। सूचना पर यातायात पुलिस मौके पर पहुंची तथा अन्य बस संचालक भी एकत्रित हो गए। पुलिस व बस संचालकों ने समझाइश के बाद बस को रवाना किया गया।
थाने में हुई भीड़
दो दिनों से बस स्टैंड पर बसों को रुकवाने की घटना के बाद दोनों पक्ष के बड़ी संख्या में लोग बुधवार को सुबह पुलिस थाने के आगे एकत्रित हुए। बस संचालकों व उनके समर्थक पुलिस थाने के आगे एकत्रित होकर एक दूसरे के विरुद्ध मामले दर्ज करवाने की बात कहते रहे। पुलिस के अधिकारियों व कार्मिकों ने भी उनसे समझाइश की। इसके बाद कुछ अन्य लोग एकत्रित हुए तथा आपसी समझाइश के बाद मामले को शांत करने की बात कही। जिस पर सभी लोग थाने से चले गए।
एक पक्ष ने दिया ज्ञापन
बस संचालकों के बीच चल रहे विवाद के तहत एक पक्ष की ओर से थानाधिकारी को ज्ञापन सुपुर्द किया गया। एक पक्ष के प्रतिनिधि मंडल ने थानाधिकारी महेन्द्रसिंह खींची से मुलाकात कर ज्ञापन में बताया कि एक बस का समय सुबह साढ़े 10 बजे है तथा दूसरी बस का समय साढ़े 11 बजे है। साढ़े 11 बजे रवाना होने वाली बस पहले ही स्टैंड पर आकर खड़ी हो जाती है। जिससे विवाद बढ़ रहा है तथा झगड़े की स्थिति हो रही है। साथ ही यातायात व्यवस्था भी बाधित होती है। उन्होंने इस मामले की जांच कर न्याय दिलाने व कार्रवाई करने की मांग की है।
यात्रियों को हो रही परेशानी
निजी बस संचालकों की आपसी खींचतान व विवाद से यात्रियों को परेशानी हो रही है। गौरतलब है कि गत 10 दिनों से निजी बस संचालकों के बीच विवाद चल रहा है तथा दो दिनों से बसों को रुकवाने का दौर जारी है। सोमवार को दो निजी बसों को पुलिस ने जब्त कर लिया। जिसके कारण यात्रियों को अन्य बसों में सफर करना पड़ा। जिससे उन्हें परेशानी हुई तथा समय भी बर्बाद हुआ। मंगलवार को भी विवाद के कारण बस करीब एक घंटे बाद रवाना हो पाई। जिसके कारण यात्रियों को परेशानी हुई। बुधवार को भी दोनों पक्ष एकबारगी आमने-सामने हुए, लेकिन कोई झगड़ा नहीं हुआ।





Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *