हीरावती व सिलनवाद में लाखों के गहने व नकदी पर चोरों ने किया हाथ साफ

लाडनूं. उपखण्ड के ग्रामीण क्षेत्र में चोरी की वारदातें दिनोदिन बढ़ती जा रही है। गुरूवार को ग्राम सिलनवाद के एक घर में अज्ञात चारों ने नकदी व गहनों पर हाथ साफ किया वहीं शुक्रवार को दिन दहाड़े हीरावती-चुण्डासरिया मार्ग पर स्थित एक ढ़ाणी में भी चारों ने घर में घूसकर चोरी की वारदात को अंजाम दिया। इस घटना से ग्रामीणों में खौफ नजर आने लगा है। गौरतलब है कि गत 15 दिनों में ग्रामीण क्षेत्र में अज्ञात चोरों द्वारा दो अलग-अलग गांवों में तीन चोरी के मामले हो चुके हैं। ग्रामीण क्षेत्र में पुलिस गश्त प्रभावी नहीं होने से इस प्रकार की घटनाएं बढ़ रही है। गुरूवार को सिलनवाद में हुई घटना में रघुनाथ पुत्र भोलाराम बैरा जाति जाट कृषि कार्य हेतु खेत गए हुए थे। पीछे से चोरों ने मौका देखकर दरवाजे की कुंडी तोडकऱ घर में रखे सोने-चांदी के आभूषण एवं 15 हजार रूपये नकद चुरा ले गए। घटना की जानकारी देने पर हेड कांस्टेबल रामस्वरूप विश्नोई ने घटनास्थल पर जाकर मौका मुआयना किया। इसी तरह मन्नालाल पुत्र रेंवताराम जाति नाई निवासी हीरावती ने पुलिस को रिपोर्ट सौंपकर बताया कि वह सुबह 9 बजे अपने भाई के परिवार के साथ ग्राम ध्यावा शोक बैठक में शामिल होने गये हुए थे। वहां से दोपहर 11 बजे अपने भाई जयचंद नाई के साथ वापस लौटा तो उसके मकान के मुख्य प्रवेशद्वार का ताला टूटा हुआ मिला। हमने भीतर देखा तो कमरे में सामान बिखरा हुआ था। कमले में रखी दो अलमारी व तीन बक्शों के ताले तोडकऱ उसमें रखे सोने की पूंची, दो रखड़ी सेट, दो गले के सोने के हार, 4 सोने की अंगूठी, सोने की चिक, नथ व 300 ग्राम चांदी के आभूषण तथा 11500 रूपये नकद चुरा ले गए। उन्होंने बताया कि आभूषणों की कीमत लगभग 8 लाख रूपये थे। घटना की रिपोर्ट प्रस्तुत करने के बाद थानाधिकारी ने पुलिस कांस्टेबल सीताराम घटनास्थल पर भेजा। क्षेत्र में हुई चोरियों पर अंकुश नहीं लग पा रहा है। जो ग्रामीण क्षेत्र के लोगों के लिए चिंतनीय है। गौरतलब है कि रताऊ गांव में शराब के अधिकृत ठेके पर अज्ञात चोरों ने लाखों की शराब चोरी कर ली वहीं इसी गांव में बस स्टेण्ड स्थित स्टेशनरी की दुकान से दिनदहाड़े मोबाइल चोरी कर युवक फरार हो गया। पुलिस को घटना में आरोपी के सीसीटीवी में कैद हुई फुटेज भी मिली लेकिन चोर अब भी पुलिस की पहुंच से बाहर है।













Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *