अभिषेक कुमार झा, वाराणसी
पीएम मोदी ने धार्मिक और आध्यात्मिक पहचान को कायम रखते हुए वाराणसी के विकास के वादे को पूरा करने की दिशा में एक और बड़ी सौगात देने का मन बना लिया है। वाराणसी के काशी स्टेशन का कायाकल्प कर यहां ‘इंटर मॉडल स्टेशन ‘बनाने की योजना तैयार की गई है। पर्यटन की दृष्टि से यहां आने वाले देश विदेश के सैलानियों को एक ही छत के नीचे विश्वस्तरीय सुविधा से संपन्न रेल, बस और जल मार्ग से जोड़ने की सहूलियत मिलेगी। 3 हजार करोड़ की लागत से इसे मूर्त रूप दिया जाएगा।

वाराणसी धार्मिक और आध्यात्मिक पर्यटन के सबसे बड़े केंद्र के तौर पूरे देश मे जाना जाता है। यहां घेरलू और विदेशी पर्यटकों की संख्या लाखों में होती है। धीरे-धीरे शहर की आबादी भी बढ़ रही है। आने वाले पर्यटकों के साथ स्थानीय लोग भी अब एक बड़े केंद्र की आस लगाए हुए थे जहां से लोगों का आवागमन सुलभ हो।

इसे देखते हुए है अब पीएम मोदी और योगी सरकार इस दिशा में एक बड़े परियोजना पर काम कर रही है। इसके तहत वाराणसी के राजघाट स्थित मालवीय पुल के पास पड़ने वाले काशी स्टेशन का कायाकल्प किया जाएगा । इसे 3000 करोड़ की लगात से तैयार किया जाएगा।

40 एकड़ में तैयार होगा मॉडल स्टेशन
वाराणसी में बनने वाले इस ‘इंटर मॉडल स्टेशन’ को 40 एकड़ में तैयार किया जाएगा। तीन मंजिला इस मॉडल स्टेशन में टर्मिनल स्टेशन पर ही बस स्टेशन, ट्रेन और वॉटर ट्रांसपोर्ट की सुविधा होगी। फिलहाल कैंट रेलवे स्टेशन के पास बस अड्डा है जिसे यहां शिफ्ट किया जाएगा साथ ही बाहर से आने वाले सैलानी जो गंगा की सैर करते हुए जल मार्ग से जाना चाहते हों उनके लिए राजघाट पर वर्ड क्लास का घाट भी तैयार किया जा रहा है।

एनएचएआई होगी नोडल एजेंसी
परियोजना के बारे में वाराणसी के आयुक्त दीपक अग्रवाल ने बताया कि इस परियोजना के लिए केंद्र की नेशनल हाईवे ऑथरिटी ऑफ इंडिया नोडल एजेंसी के तौर पर कार्य करेगी जिसके साथ अहम भूमिका भारतीय रेल की भी होगी। राज्य सरकार की तरफ से पीडब्लूडी समेत अन्य विभागों को भी जोड़ा जाएगा जो सहयोगी के तौर पर एनएचएआई के साथ काम करेंगे। परियोजना का इनिशियल सर्वे का काम हो गया है। एक्सपर्ट टीम फाइनल डीपीआर और जमीन के सर्वे का काम कर रही है।

Varanasi news: 3000 करोड़ से होगा काशी स्‍टेशन का कायाकल्‍प, एक ही छत के नीचे होगी रेल, बस और जल मार्ग की सुविधा



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *