बरेली
उत्तर प्रदेश के बरेली में एक लड़की के अपहरण के मामले में कार्रवाई की मांग को लेकर गुहार लगाने पहुंचे किसान से चौकी प्रभारी के अभद्रता और रिश्वत मांगने का मामला सामने आया है। जिससे अपमानित महसूस होते हुए किसाने ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। वहीं घटना स्थल पर पहुंचे चौकी प्रभारी ने मृतक की जेब से सुसाइड नोट बरामद किया,जिसमें पीड़ित ने रामनगर चौकी इंचार्ज पर गंभीर आरोप लगाए हैं।

दरअसल घटना बरेली जिले के आंवला थाने के रामनगर चौकी क्षेत्र के गांव मऊ चंद्रपुर में सोमवार को किसान ने फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली। मौके से सुसाइड नोट बरामद हुआ। जिसमें आत्महत्या के लिए मृतक ने पुलिस को जिम्मेदार ठहराने की बात लिखी थी, इसलिए उसे पढ़ने के बाद चौकी प्रभारी ने सुसाइड नोट फाड़ दिया। इस पर मृतक के परिजन और ग्रामीण गुस्सा गए। उन्हें छुड़ाने पहुंची पुलिस की टीम पर भी पथराव कर दिया।

पुलिस कर्मियों पर फूटा ग्रामीणों का गुस्सा
ग्रामीणो ने पुलिस कर्मियों से मारपीट भी की। इसमें कई पुलिस कर्मियों के चोट भी आई। बाद में सीओ आंवला ने गांव में पहुंचकर ग्रामीणों को शांत कराया। घायल पुलिस कर्मियों का उपचार भी कराया। क्षेत्रीय विधायक एवं प्रदेश के पूर्व कैबिनेट मंत्री धर्मपाल सिंह ने भी गांव पहुंचकर ग्रामीणों को समझा-बूझाकर शांत कराया। पुलिसअधिकारियों से मामले में उचित कार्रवाई को भी कहा।

8 अप्रैल को हो गया था मृतक की बेटी का अपहरण
मृतक किसान की बेटी का अपहरण 8 अप्रैल को हो गया था। इस मामले में अगले दिन 9 अप्रैल को मृतक की ओर से एक युवक और उसके परिजनों के खिलाफ अपहरण की रिपोर्ट दर्ज कराई गई थी। इसके बाद से ही मृतक बेटी की बरामदगी के लिए चौकी प्रभारी से गुहार लगा रहा था। लेकिन बेटी को बरामद नहीं किया गया।

चौकी प्रभारी पर एक लाख रुपये रिश्वत मांगने का आरोप
मृतक के परिजनों ने आरोप लगाया है कि चौकी प्रभारी न सिर्फ मामले को टाल रहे थे बल्कि कार्रवाई की मांग करने पर लगातार मृतक को अपमानित करते थे। उन्होंने कार्रवाई के लिए रिश्वत की मांग भी की थी। एक तो बेटी के न मिलने और दूसरा चौकी प्रभारी के अपमानित करने से किसान परेशान हो गया था और उसने आत्महत्या जैसा कदम उठा लिया। मृतक ने सुसाइड नोट में लिखा है- चौकी रामनगर का दरोगा मुझसे लड़की ढूढ़ने के लिए एक लाख रुपये मांग रहा है। पैसा न देने पर गाली देकर भगा दिया। मैं गरीब आदमी पैसा न होने की वजह से आत्महत्या कर रहा हूं। मेरी मौत का जिम्मेदार चौकी इंचार्ज रामनगर है।

AssignmentImage-413082359-1618230892

घर पर लटका मिला शव
सोमवार को सुबह जब परिजन सोकर उठे थे किसान का शव घर के ही एक कमरे में फंदे से लटका पाया तो घर में कोहराम मच गया। इसकी सूचना पुलिस को दी गई तो आरोपी चौकी प्रभारी मौके पर पहुंचे थे। लेकिन सुसाइड नोट पढ़ने के बाद खुद को फंसा देखकर उन्होंने उसे फाड़कर ग्रामीणों को भड़का दिया।

चौकी प्रभारी सस्पेंड, जांच के आदेश

एसएसपी रोहित सजवाण ने इस मामले में चौकी प्रभारी को तत्काल प्रभाव से सस्पेंड कर दिया। वहीं, मामले की जांच एसपी ग्रामीण को सौंपी है। एसएसपी का कहना है कि मामले में यदि विवेचक भी दोषी पाए जाएंगे तो उनके खिलाफ भी विधिक कार्रवाई की जाएगी।



Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *