देवीखेड़ा सडक़ मार्ग पर नए तालाब के नाम से पहचाने जाने वाले सार्वजनिक तालाब की मुख्य दीवार को जेसीबी से तोडऩे को लेकर ग्रामीणों में नाराजगी बनी हुई है।

राजमहल. कस्बे के देवीखेड़ा सडक़ मार्ग पर नए तालाब के नाम से पहचाने जाने वाले सार्वजनिक तालाब की मुख्य दीवार को जेसीबी से तोडऩे को लेकर ग्रामीणों में नाराजगी बनी हुई है। मुख्य दीवार टूटने के कारण बारिश के दौरान तालाब में भरने वाला पानी तालाब में नहीं रखकर खेतों व देवीखेड़ा सडक़ मार्ग को तोडऩे की आशंका को लेकर लोगों में रोष व्याप्त है।

ग्रामीणों ने बताया कि देवी खेड़ा सडक़ मार्ग पर स्थित सार्वजनिक तालाब की मुख्य दीवार को कुछ दिनों पूर्व खेतों से मिट्टी निकालने के लिए प्रभावशाली लोगों ने बीच में से काटकर रास्ता निकाल दिया, जिससे वापिस मिट्टी से नहीं भरा गया है जिसको लेकर तालाब की मुख्य दीवार लगभग 20 फीट लंबी व 15 फीट ऊंचाई तक तोड़ दिया गया है जिससे दीवार के बीच सुरंग बन चुकी है।

साथ ही करीबी खेतों के मालिकों ने मुख्य दीवार को जगह.जगह से क्षतिग्रस्त कर दिया गया। जिससे बारिश के दौरान तालाब में भरने वाला पानी तालाब परिसर में नहीं ठहर कर क्षतिग्रस्त दीवार से करीबी खेतों व देवीखेड़ा सडक़ मार्ग पर बहने की आशंका है।

वहीं सार्वजनिक तालाब खाली रहने की आशंका सताने लगी है। तालाब की दीवार क्षतिग्रस्त ग्रस्त होने से तालाब में बारिश का पानी नहीं ठहरने को लेकर मवेशियों के पेयजल की आशंका भी सताने लगी वही खेतों में सिंचाई पर भी संकट के बादल मंडराने की आशंका है।

इनका कहना है
अगर ऐसा है तो पंचायत प्रशासन से मिलकर तालाब की पाल को जल्द ही मिट्टी से भरवा कर सही करवाएंगे।

– सर्वेश्वर लिम्बार्क तहसीलदार देवली

इनका कहना है
मुझे अभी जानकारी हुई है जल्द ही तालाब की दीवार को तोडऩे वाले लोगों के खिलाफ कार्रवाई करने के साथ ही दीवार को सही करवाने का प्रयास जारी है।
– किशन गोपाल सोयल सरपंच राजमहल











Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *