शनिवार रात करीब 3 बजे यहां रोडिय़ों से भरा ट्रोला आया। चौकीदार गजेन्द्र उर्फ काला (22) पुत्र रमेश जाटव निवासी रूपबास ट्रोले को बैक कराकर साइड में खड़ा करा रहा था। इसी दौरान नाले में टायर धंसने से ट्रोला पलट गया और पास में खड़ा चौकीदार गजेन्द्र ट्रोले और रोडिय़ों के नीचे दब गया।

By: Lubhavan

Published: 19 Jul 2021, 10:35 AM IST

अलवर. शहर के भवानी तोप चौराहा के समीप स्थित निर्माणाधीन बहुमंजिला इमारत के सामने शनिवार देर रात रोडिय़ों से भरे ट्रोले के नीचे दबने से चौकीदार की मौत हो गई। पुलिस ने जेसीबी से रोडिय़ों को हटवाकर चौकीदार का शव बाहर निकाला। सामान्य अस्पताल में रविवार को पोस्टमार्टम कार्रवाई के बाद शव परिजनों को सौंप दिया गया।
अरावली विहार थाने के एएसआई विजय कुमार ने बताया कि भवानी तो चौराहे के समीप बहुमंजिला इमारत का निर्माण चल रहा है।
शनिवार रात करीब 3 बजे यहां रोडिय़ों से भरा ट्रोला आया। चौकीदार गजेन्द्र उर्फ काला (22) पुत्र रमेश जाटव निवासी रूपबास ट्रोले को बैक कराकर साइड में खड़ा करा रहा था। इसी दौरान नाले में टायर धंसने से ट्रोला पलट गया और पास में खड़ा चौकीदार गजेन्द्र ट्रोले और रोडिय़ों के नीचे दब गया। घटना की सूचना मिलने के बाद पुलिस मौके पर पहुंची।

जेसीबी बुलाकर रोडिय़ों को हटवाया और ट्रोले को खड़ा कराया। उसके नीचे से चौकीदार गजेन्द्र का शव निकला, जो कि बुरी तरह से कुचल गया था। पुलिस ने शव को सामान्य अस्पताल के मुर्दाघर में रखवाया और घटना की सूचना परिजनों को दी। इसके बाद परिजन अस्पताल पहुंचे। पुलिस ने पोस्टमार्टम कार्रवाई के बाद शव परिजनों को सौंप दिया। घटना के सम्बन्ध में परिजनों की ओर से फिलहाल कोई रिपोर्ट दर्ज नहीं कराई गई है।















Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *